शेयर करें
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। वैसे तो क्रिकेट में कई महान खिलाड़ी आए लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे है जिनके नाम आज भी ऐसे महान रिकॉर्ड दर्ज है जिनको अभी तक कोई भी खिलाड़ी क्रिकेट के किसी भी प्रारुपों में नहीं तोड़ पाया है।

पांचवां टेस्ट मैच हार कर भी जीत गए टीम इंडिया के धुरंधर

जी हां हम बात कर रहे है ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज लेग स्पिनर खिलाड़ी शेन वॉर्न की। आज इस महान खिलाड़ी का जन्मदिन है। 13 सितंबर 1969 को विक्टोरिया में जन्में शेन वॉर्न 49 साल के हो गए है। वॉर्न की गेंदों का शिकार उनके करियर में बड़े बल्लेबाज से लेकर कई खिलाड़ी हुए है।

आपको बता दें कि शेन वॉन ने अपने टेस्ट करियर के 145 मैचों में 708 विकेट चटकाए, जो मुथैया मुरलीधरन के 800 विकेट टेस्ट क्रिकेट में लेने के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा विकेट है।

वॉर्न ने अपने करियर की शुरुआत जनवरी 1992 में सिडनी टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ शुरु किया था। उन्होंने रवि शास्त्री को आउट कर अपने करियर का पहल विकेट लिया था। तब शास्त्री 206 रन बनाकर वॉर्न की गेंद पर कैच आउट हुए थे।

सीरीज हारने को लेकर खुलकर बोलें कोहली, कहा- हम आखिर तक लड़ें

वहीं वॉर्न ने खुलासा किया था कि सचिन उनके सपने में भी छक्का मारकर डराया करते थे। सचिन ने 1998 में शारजाह में वॉर्न की गेंदों की ऐसी पिटाई की थी, कि उन्हें सपने में भी सचिन नजर आने लगे थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here