शेयर करें
(चित्र: ट्विटर)

आंध्रप्रदेश। रियो ओलम्पिक में महिला एकल फाइनल मुकाबले में सिंधू को जापान की नोजोमी ओकुहारा से अंतिम क्षण में सिक्स्थ का सामना करते हुए केवल रजत पदक से संतोष करना पड़ा । वही भारत के लिहाज से ऐतिहासिक रहे इस चैम्पियनशिप में सिंधू की हार के बावजूद देश के बैडमिंटन खिलाड़ी दो पदक के साथ स्वदेश लौटे। पूर्व नंबर एक साइना नेहवाल को शनिवार को सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

रजत पदक जीतकर भारत का मान बढ़ाने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने बुधवार को आंध्रप्रदेश के गोलापुड़ी स्थित राज्य सचिवालय में डिप्टी कलेक्टर का पदभार ग्रहण किया। इस अवसर पर सिंधू के साथ उनके माता-पिता भी थे। सिंधू ने आयुक्त अनिल चंद्र पुनेथा को रिपोर्ट किया और औपचारिक रूप से सेवा में शामिल होने के लिए दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए।

ओलम्पिक में रजत पदक जीतने के बाद सिंधू को आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने पुरस्कृत करने की घोषणा की थी और इसी क्रम में 29 जुलाई को सिंधू को नियुक्ती पत्र सौंपा था। आंध्र सरकार ने सिंधू को 30 दिनों के अंदर डिप्टी कलेक्टर का पदभार संभालने के लिए कहा था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here