शेयर करें
vijay
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। विजय हजारे ट्रॉफी वनडे टूर्नामेंट में मुंबई ने अपनी बेहतरीन गेंदबाजी और आदित्य तरे और सिद्धेश लाड की खेली गई बेहतरीन पारी के चलते दिल्ली को चार विकेट से हराकर मुंबई ने तीसरी बार विजय हजारे ट्रॉफी वनडे टूर्नामेंट में अपनी जीत सुनिश्चित की है।

मैच के दौरान पाक कप्तान सरफराज के हेलमेट में लगी गेंद, आगे खेलने पर संशय

घरेलू क्रिकेट की दो टीमों के बीच खेल गए गए फाइनल मुकाबले में तरे ने 89 गेंदों पर 71 रन की पारी खेली और लाड ने 68 गेंदों में 48 रन की पारी से पहले मुकाबले बराबरी का लग रहा था।

वहीं मुंबई की टीम को इस टूर्नामेंट में 178 रनों का लक्ष्य मिला था जिसका पीछा करने उतरी मुंबई की टीम ने 40 रनों के मामूली से स्कोर पर अपने चार विकेट गंवा दिए थे, लेकिन इसके बाद दोनों ही बल्लेबाजों ने पांचवे विकेट के लिए 105 रनों की साझेदारी की जिससे मुंबई ने 35 ओवरों में छह विकेट पर 180 रन बनाकर 2006 और 2007 के बाद पहली बार यहां वनडे टूर्नामेंट जीता।

IND vs WI: पहले मैच में कोहली-शर्मा के तूफान में उड़ा वेस्टइंडीज, 8 विकेट से दर्ज की जीत

बात करें दिल्ली की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 45.4 ओवर में 177 रनों पर सिमट गई थी। उसकी तरफ से हिम्मत सिंह ने सबसे ज्यादा 41 रन बनाए। मुंबई के गेंदबाज तुषार देशपांडे 30 रन देकर दो विकेट झटके थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here