शेयर करें
(चित्र: ट्विटर)

पोटचेफस्ट्रूम (दक्षिण अफ्रीका): भारतीय महिला टीम की गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने एक महत्‍वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। भारत ही नहीं, दुनिया की तेज गेंदबाजों में शुमार झूलन आज वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज बन गईं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की कैथरीन फिट्जपैट्रिक का एक दशक से चला आ रहा रिकॉर्ड तोड़ा।

झूलन ने यहां खेली जा रही चतुष्कोणीय सीरीज में दक्षिण अफ्रीका की रेसीबे नटोजाके को आउट करके 50 ओवरों के प्रारूप में अपना 181वां विकेट हासिल किया। इस तरह से उन्होंने फिट्जपैट्रिक का 109 मैचों में 180 विकेट के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। इस मैच में भारतीय महिला टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 52 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से जीत हासिल की। पहले बैटिंग करते हुए झूलन की गेंदबाजी के कारण दक्षिण अफ्रीकी टीम 119 रन बनाकर आउट हो गई। जवाब में भारतीय टीम ने मिताली राज के नाबाद 51 रन की मदद से तीन विकेट खोकर लक्ष्‍य हासिल कर लिया।

झूलन ने 7.3 ओवर में 20 रन देकर तीन विकेट लिए। उन्‍होंने 153वें मैच में यह रिकॉर्ड तोड़ा लेकिन वह लंबे समय से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रही हैं। यह 34 वर्षीय खिलाड़ी पश्चिम बंगाल के नादिया जिले के चकदाहा कस्बे की रहने वाली है। उन्होंने 2002 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्हें वर्ष 2007 में आईसीसी की वर्ष की महिला क्रिकेटर भी चुना गया था। झूलन ने इसके अलावा दस टेस्ट मैचों में 40 विकेट और 60 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 50 विकेट लिए हैं। अपनी गेंदों को अच्‍छी रफ्तार देने वाली झूलन को नादिया एक्‍सप्रेस के नाम से भी जाना जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here