शेयर करें
virat
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। टीम इंडिया ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम को 151 रनों के स्कोर पर रोक दिया। यानी 151 रनों के स्कोर पर टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को ऑल आउट कर दिया। भारत ने अपनी पहली पारी में सात विकेट के नुकसान पर 443 रनों पर अपनी पारी घोषित कर दी थी। इस लिहाज से ऑस्ट्रेलिया 292 रन पीछे रह गया।

साउथ अफ्रीका के सबसे सफल टेस्ट गेंदबाज बने डेल स्टेन

भारत ने पास फॉलोऑन खिलाने का मौका था लेकिन टीम इंडिया ने ऐसा नहीं करते हुए अपनी दूसरी पारी खेलने का फैसला किया। लेकिन दूसरी पारी में टीम इंडिया पहली पारी की तरह कुछ खास कमाल नहीं कर सकी। जिसकी बदौलत दूसरे दिन खेल खत्म होने से पहले टीम के 5 विकेट 54 रनों के स्कोर पर गिर चुके थे।

बात फॉलोऑन की करें तो टीम इंडिया के पास ऑस्ट्रेलिया को करीब 32 साल बाद उनकी ही सरजमीं पर फॉलोऑन देने का मौका था, लेकिन कप्तान विराट कोहली ने इसको ज्यादा महत्व नहीं देते हुए दूसरी पारी खेलना सही समझा। बताते चले कि टीम इंडिया ने पहली और आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया को उनकी सरजमीं पर 1986 में फॉलोऑन करने का मौका दिया था।

बॉक्सिंग डे टेस्ट: बुमराह की घातक गेंदबाजी, ऑस्ट्रेलिया को 151 रन में समेटा

1986 में ऑस्ट्रेलिया को सिडनी में कपिल देव की कप्तानी में टीम इंडिया ने फॉलोऑन दिया था। तब उस समय भारतीय टीम के लिए पहली पारी में सुनील गावस्कर ने 172, के.श्रीकांत ने 116, और मोहिंदर अमरनाथ ने 138 रनों की शानदार शतकीय पारी की बदौलत चार विकेट के नुकसान के 600 रन बनाए और अपनी पारी घोषित की थी। लेकिन उसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम अपनी पहली पारी में 396 रनों पर सिमट गई जबकि दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट के नुकसान पर 119 रन बनाए और अपना मैच बचा लिया था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here