शेयर करें
hardik and kl rahul
Twitter/ The Cricket Lounge

खेलपत्र नमस्कार। टीम इंडिया के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पंड्या और सलामी बल्लेबाज के एल राहुल के कॉफी विद करण के शो पर महिलाओं के खिलाफ दिए गए बयान के बाद बीसीसीआई ने दोनों ही खिलाड़ियों को प्रतिबंधित कर दिया था। जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए दोनों ही खिलाड़ियों को वापस बुला लिया है।

ICCटेस्ट रैंकिंग: पाक को 3-0 से हराकर दूसरे स्थान पर पहुंचा साउथ अफ्रीका, भारत 1 नंबर पर बरकरार

भारत आने के बाद से हार्दिक पंड्या इस विवाद से काफी आहत हुए है जिसके चलते वह अपने घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं और ना ही किसी का फोन उठा रहे हैं। लेकिन हार्दिक के पिता का कहना है कि उन्होंने सोशल मीडिया से दूरी बना ली है इसी के चलते उन्होंने मकर संक्राति भी नहीं मनाई है।

एक मीडिया का रिपोर्ट में हार्दिक के पिता ने बताया कि हार्दिक को पंतग उड़ाना पसंद है लेकिन इस अजीब स्थिति से वह इस त्योहार को मनाने के मूड में नहीं है। सीओए ने इस विवाद के लिए दोनों ही खिलाड़ियों पर दो मैच के लिए बैन लगाने की सिफारिश की थी, लेकिन अभी बीसीसीआई ने इनकी सजा के बारें में अब तक कोई भी फैसला नहीं सुनाया है।

हार्दिक के पिता का कहना है कि हार्दिक पांड्या अपने ऊपर लगें प्रतिबंध से काफी निराश चल रहे है और उनको अपनी टिप्पणी पर पछतावा भी कर रहे है। उन्होंने इस बारें में कहा कि हार्दिक का परिवार उनसे इस मामले में कोई भी बात नहीं करेंगा। उनका परिवार अब बीसीसीआई के फैसले का इंतजार कर रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार केएल राहुल और हार्दिक पंड्या ने मंगलवार को बीसीसीआई के सीईओ राहुल जोहरी के सामने अपनी बात रखी थी। उन्होंने बीसीसीआई के कारण बताओ नोटिस के जवाब में बिना शर्त माफी मांगने के बाद टेलीफोन के जरिए भी जोहरी के सामने अपनी बात रखी।

तो इस वजह से धोनी का साथ चाहते है कप्तान विराट कोहली

आपको बताते चले कि दोनों ही खिलाड़ियों ने फिल्म निर्माता करन जोहर के शो काफी विद करण के शो में कई महिलाओं के साथ संबंध बनाने और इसके बारे में अपने माता-पिता के साथ खुलकर बात करने की बातें कबूल की थी। जिसके बाद से उनको सोशल मीडिया में काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here