शेयर करें
raman
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच पर भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज डब्ल्यू वी रमन को नियुक्त किया गया। जबकि चय़न प्रक्रिया को लेकर प्रशासकों में आपसी मतभेद जारी हैं। रमन इस समय राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में बल्लेबाजी सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं।

मैदान पर कोहली के आक्रामकता को लेकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलेन बॉर्डर ने दिया ये बयान

वह अगले महीने न्यूजीलैंड में पहली बार टीम के साथ जाएंगे। वहीं बीसीसीआई ने बताया कि गैरी कर्स्टन पहली पसंद थे, लेकिन रमन को यह पद इस लिए मिला क्योंकि कर्स्टन आईपीएल फ्रैंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ अपना पद छोड़ने को तैयार नहीं थे। उन्हें आईपीएल और राष्ट्रीय टीम में से एक को चुनने के बारें में मनाया नहीं जा सका।

चयन समिति ने पूर्व कप्तान कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और एस रंगास्वामी शामिल हैं। पैनल ने बोर्ड को 3 नाम दिए जिसमें कर्स्टन, रमन और वेंकटेश प्रसाद की सिफारिश की लेकिन बीसीसीआई के पद के लिए रमन को चुना गया। प्रशासकों की समिति के बीच इस मुद्दे पर विभाजित विचारों के बावजूद यह नियुक्त की गई जिसमें डायना एडुल्जी ने चेयरमैन विनोद राय को चयन प्रक्रिया रोकने को कहा था।

तो इस वजह से हुई ईशांत- जड़ेजा के बीच पर्थ टेस्ट मैच में झड़प

बता दें कि रमन ने देश के लिए 11 टेस्ट और 27 वनडे मैच खेले हैं और इस समय वह देश के सबसे बेस्ट कोच में से एक हैं। रमन ने तमिलनाडु और बंगाल जैसी बड़ी रणजी टीमों को कोचिंग दे चुके हैं और भारत अंडर 19 टीम के साथ भी काम कर चुके हैं। उन्होंने 1992 से 93 को दौर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ शतक जड़ने वाले पहले भारतीय के रूप में भी याद किया जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here