शेयर करें
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। समरसेट क्रिकेट लीग में एक गेंदबाज के ऊपर नौ मैचों का प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह प्रतिबंध खेल भावना के खिलाफ जाते हुए खिलाड़ी को शतक पूरा नहीं करने देने पर लगया गया है।

बर्थडे स्पेशल: ऐसा बल्लेबाज जिसने विदेशी सरजमीं पर पहली बार दिलाई भारतीय टीम को जीत

जी हां सही सुना आपने असल में गेंदबाज ने बल्लेबाज का शतक पूरा ना हो इसके लिए उसने गेंद को बाउंड्री की तरफ फेंककर विरोधी टीम को तो जीत लिया लेकिन बल्लेबाज को शतक पूरा करने से रोक दिया। जिसकी वजह से गेंदबाज पर नौ मैचों का बैन लगा दिया गया।

आपको बता दें कि माइनहेड के बल्लेबाज जे डैरेल जब 98 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तभी पर्नेल सीसी के गेंदबाज ने बीमर गेंद फेंकी जो की नो बॉल होती हुई सीधे बाउंड्री पार गई। जिसकी वजह से माइनहेड टीम मुकाबला तो जीत गई लेकिन बल्लेबाज शतक नहीं बना सकें। वहीं पर्नेल सीसी के गेंदबाज की इस हरकत को खेल भावना के खिलाफ देखा जा रहा है।

विराट पहले ही महानतम बनने के पास पहुंच गया है: धोनी

इस मामले में समरसेट क्रिकेट लीग का कहना है कि इस तरह की हरकत क्रिकेट लीग और क्रिकेट को बदनाम करती है। इसके बाद ही जांच में पाया गया कि गेंदबाज ने खेल भावना को नुकसान पहुंचाया है जिस वजह से उन्होंने गेंदबाज पर नौ मैचों का प्रतिबंध लगा दिया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here