शेयर करें

पाकिस्तान ने चैंपियंस ट्रॉफी के लिए खेले गए मैच में दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ लुइस सिस्टम के आधार पर 19 रनों से मात दी| इस जीत के साथ ही पाकिस्तान ने टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद को कायम रखा है| इससे पहले पाकिस्ताने  शानदार गेंदबाजी के दम पर दक्षिण अफ्रीका की मजबूत बल्लेबाजी को 219 रनों पर ही रोक दिया|

एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए इस मैच में दक्षिण अफ्रीकी टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 220 रन ही बना सकी| जवाब में पाकिस्तान ने 27 ओवर में तीन विकेट पर 119 रन बना लिए थे,तभी बारिश आ गई| बाद में डकवर्थ लुइस सिस्टम के आधार पर फैसला पाकिस्तान के पक्ष में गया| 27 ओवरों में पाकिस्तना ने 101 रनों के संशोधित लक्ष्य के बदले 119 रन बना लिए थे| इस तरह पाकिस्तान ने यह मुकाबला 19 रनों से जीत लिया|पाकिस्तान ने चैंपियन ट्रॉफी में आठ सालों के बाद पहली जीत दर्ज की है|

बारिश के समय खेल रोके जाने के समय पाकिस्तान के बाबार आजम 31 रन बनाकर खेल रहे थे जबकि शोएब मलिक 16 रन बनाकर खेल रहे थे| पाकिस्तान ने भी एक रन के अंतराल पर दो विकेट गंवा दिए जिसे देखकर ऐसा लग रहा था कि पाकिस्तान की टीम दबाव में आ जाएगी| उसका पहला विकेट फखर जमां के तौर पर गिरा जिन्होंने 31 रनों की अच्छी पारी खेली| स्कोर बोर्ड में अभी एक रन ही जुड़ा था कि अजहर अली भी 9 रन बनाकर आउट हो गए|  इन दोनों का विकेट मॉर्केल ने झटका| पाकिस्तान का तीसरा विकेट मोहम्मद हफीज के तौर पर गिरा हफीज ने 26 रन बनाए|

इससे पहले दक्षिण अफ्रीकी टीम ने टॉस जीतकर धीमे विकेट पर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया| स्पिनरों ने दक्षिण अफ्रीका के तीन शुरुआती विकेट जल्दी ले लिए,जिसके बाद तेज गेंदबाजों ने बढ़िया बॉलिंग की|डेविड मिलर और क्रिस मॉरिस ने अगर सातवें विकेट के लिए 47 रन नहीं जोड़े होते तो अफ्रीकी टीम 200 का अांकड़ा भी नहीं पार कर सकती थी|

मिलर ने 104 गेंदों में सर्वाधिक  75 रन बनाए| जबकि क्रिस मॉरिस ने 28 रनों का योगदान दिया| अंत में रबादा ने भी मिलर का अच्छा साथ दिया और तेज 23 गेंदो में 26 रन बनाए| पाकिस्तान की तरफ से जुनैद ने 2, हसन अली ने 3 विकेट और स्पिनर इमाद हसन ने भी दो विकेट लिए

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here