शेयर करें
Twitter

खेलपत्र नमस्कार। 18वें एशियाड खेलों में भारतीय महिला हॉकी टीम ने बीते मंगलवार को अपने दूसरे ग्रुप मैच में कजाकिस्तान को 21-0 से हरा दिया।

विनेश फोगाट ने एशियाई खेलों में गोल्ड जीतकर रचा इतिहास

इस रोमांचक मुकाबले में महिला हॉकी टीम की चार खिलाड़ियों ने हैट्रिक भी बनाई है। भारतीय टीम ने 18 खिलाड़ियों को मौका दिया जिसमें से 10 गोल करने में सफल रहें। लेकिन भारतीय टीम 22-0 के एशियाई खेलों के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ने से चूक गई। इससे पहले 1982 के एशियाई खेलों में हांगकांग के खिलाफ भारत ने 22-0 से मुकाबले में जीत हासिल की थी।

भारतीय महिला हॉकी की टीम की ओर से स्टार खिलाड़ी रानी रामपाल और सविता को मुकाबले से बाहर रखा गया था। इसके बावजूद भी महिला हॉकी टीम के लिए गुरजीत ने 7वें, 36, 44,वें और 52वें, नवनीत कौर ने 11वें, 12वे, 49वे, वंदना कटारिया ने 29वें, 37वें, 53वें और लालरेमसियामी 9वें, 19 और 30 मिनट में गोल कर अपनी हैट्रिक के साथ टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाई।

इसके साथ ही टीम के लिए उदिता ने 34वें मिनट में दीप ग्रेस एक्का ने 43वें मिनट में, मिंज ने 38वे और 44वें में गोल किए जबकि नेहा, नवजोत मोनिका ने 10वें, 16वें, 54वें और 55 मिनट में गोल किए थे।

जब मैदान पर विराट ने इंग्लैंड के खिलाड़ियों से शेयर की ड्रिंक्स

आपको बता दें कि भारतीय महिला हॉकी टीम इस समय एचआईएच अंक तालिका में नौवें स्थान पर काबिज है, जबकि कजाकिस्तान इस लिस्ट में34वें स्थान पर बनी हुई है। इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम बेहतरनी रैंकिंग वाली टीमों में से एक है। अब अगला मुकाबला भारतीय टीम का 25 अगस्त को दक्षिण कोरिया के साथ होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here